बच्चे की नज़र ठीक करने के 10 उपाय

आंखें हमारे शरीर का सबसे जरूरी अंग है । यहnअंग हमारे सुबह उठने से लेकर रात के सोने तक सारा दिन काम करती है । कई बार इनमें धूल-मिटटी भी चली जाती है और भी इन्हें कई चीज़ों से गुजरना पड़ता है । ऐसा कहा जाता है कि बच्चे के जन्म से लेकर बच्चे के युवा होने तक उसकी आँखों का सबसे ज़्यादा ख्याल रखना पड़ता है क्योंकि जहाँ यह सारा दिन काम करती है वहीं यह बहुत नाज़ुक भी होती है ।
जब बच्चे छोटे हो तो उनको अपनी निगाह कमज़ोर होने के बारे में पता नहीं लगता और इस उम्र में बच्चों की निगाह जल्दी कमजोर होना शुरू हो जाती है । इसीलिए इस समय बच्चे का सबसे ज़्यादा माँ बाप को ध्यान रखना चाहिए ।

नज़रअंदाज़ न करने वाले संकेत :

  • अगर बच्चा बार-बार आँखें मल रहा हो या रगड़ता हो।
  • अगर बच्चा आँखें भैंगी कर के देखने की कोशिश करे।
  • अगर हर चीज़ पास में से देखने की कोशिश करे ।
  • अगर पलकें ज़्यादा झपकते हो ।
  • अगर उसके सर में या आँखों में दर्द हो रहा हो ।
  • अगर किसी भी मोबाइल या टीवी को चलाने में परेशानी हो रही हो तो डॉक्टर से संपर्क करना बेहद जरुरी होता है ।

बच्चों की आँखों को स्वस्थ रखने के कुछ जरूरी टिप्स :

  • अगर आप अपने बच्चे की आँखों को स्वस्थ रखना चाहती है तो उन्हें शुरू से ही मोबाइल और टीवी ,लैपटॉप जैसी चीज़ों से दूर रखें क्योंकि इन चीज़ों से निकलने वाली खतरनाक रेज़ आपके बच्चे की कोमल आँखों को बहुत जल्दी नुकसान पहुंचा सकती है ।
  • आपको अपने बच्चे को नियमित तौर पर अच्छी खुराक देनी चाहिए जैसे उन्हें पोषक तत्वों से भरपूर फल -सब्जियाँ जरूर खिलाएँ उन्हें सूखे मेवे भी दे इससे उनका शरीर तंदरुस्त रहेगा ।
  • अपने बच्चे को विटामिन ऐ और विटामिन सी भी जरूर दे यह भी बहुत आवश्यक तत्व होते है ।
  • बच्चे को भरपूर नींद लेने दे उन्हें थकावट होने पर सुला दे ताकि उनकी आँखें ज़्यादा थकने पर लाल न हो जाये ।
  • उन्हें लेट कर पढ़ने न दे यह भी नुकसान दायक हो सकता है ।
  • बच्चे को कम रोशनी में न पढ़ने दे उन्हें लगातार पढ़ने से भी रोके और कुछ देर का ब्रेक लेकर पढ़ने को कहे ।
  • अपने बच्चे को कभी भी काजल और सुरमा न लगाए आजकल यह चीज़ें भी हानिकारक होती है ।
  • बच्चे को 6-8 गिलास पानी पीने को कहे इससे उसका शरीर हाइड्रेट रहेगा और बच्चा भी एक्टिव बनेगा ।
  • आपको बच्चे को तेज़ धूप में भी नहीं खेलने देना चाहिए क्योंकि इससे बच्चे की आँखें लाल हो सकती है और उनमें दर्द भी हो सकता है ।
  • आपको बच्चे को हमेशा से हाथ धोने की आदत सिखा नी चाहिए ताकि बच्चा गंदे हाथ अपनी आँखों को न लगाएँ और गंदे हाथों से खाना भी न खाएँ इससे उसके शरीर में जर्म्स भी जा सकते है ।
  • उसे किसी भी तीखी या नुकीली चीज से खेलने न दे और कोई ऐसी चीज के पास भी न जाने दे ।
    महत्वपूर्ण घरेलू उपाय :
  • सबसे पहले तो आप बच्चे को छोटी इलायची और सौंफ को पीसकर पाउडर बनाकर रोज़ाना दूध में डाल कर दे ऐसा करने से बच्चे की आँखों की रोशनी आगे से बेहतर होगी ।
  • आप बच्चे को आँवला जरूर खिलाये चाहे उसका रस निकाल कर पिलाएँ या आप उसे आँवले का मुरब्बा भी खिला सकती है यह उसके बालों और आँखों को मजबूत बनाएगा और उसकी इमयुनिटी को भी मजबूत करेगा ।
  • आप बच्चे को रोज़ाना गाजर भी खिला सकते है इसमें मौजूद विटामिन ए आँखों के लिए बहुत गुणकारी होता है और यह आँखों का भैंगापन तक ठीक कर देता है ।
  • आप बच्चे को शकरकंदी भी खिला सकती है इसमें विटामिन ऐ, सी ,फाइबर और कई विटामिन भी मौजूद होते है जो शरीर के लिए काफी फायदेमंद है ।
  •  आप बच्चे को रोज़ाना बादाम भी खिलाएँ यह भी आँखों के लिए बहुत गुणकारी है।
  • आप बच्चे को पालक भी खिला सकती है पालक की सब्जी ,जूस और सूप बहुत फायदेमंद होता है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top