अनियमित माहवारी को नियमित कैसे करें – कारण, घरेलू उपाय और लक्षण

ज़्यादातर औरतें अपनी माहवारी के अनियमित्तिता से परेशान रहती है । पीरियड्स की गड़बड़ी को ही माहावारी की अनियमियत्ता कहते है। इससे मतलब है माहावारी का समय से पहले या कुछ दिनों के बाद आना । अगर यह भी समय से न आए तो भी कई तरह की समस्याऐं हो सकती हैं । यह समस्या आजकल आम हो गयी है ।

अनियमित महावारी के कारण :

  • इसका सबसे बड़ा कारण है एग्स का कम बनना । अगर आपके पीरियड्स लेट हो रहे है  तो हो सकता है आपके एग्स कम बन रहे हो ।
  • इसका एक कारण प्रेगनेंसी का होना भी हो सकता है ।
  • अगर आपकी उम्र 50 या से उससे अधिक हो गयी है और आपके पीरियड्स लेट हो रहे तो यह मीनोपॉज का कारण भी हो सकता है ।
  • आपको तनाव होने से भी माहवारी अनियमित हो सकती है ।
  • अगर आपका वजन कम या ज़्यादा हो रहा है तो भी माहवारी अनियमित हो सकती है ।
  • ज़्यादा थकावट भी इसका एक कारण है ।
  • अगर आपने कंट्रासेप्टिव पिल्स ली हो तो भी माहवारी अनियमित हो सकती है ।
  • थाइरोइड भी  इसका एक कारण है ।
  • अगर आपके आहार में पोषक तत्त्वों की कमी हो रही हो तो भी ऐसा हो सकता है ।

अनियमित महावारी के लक्षण :

  • आपके हाथों और पैरों में दर्द  होना ।
  • आपके स्तनों में दर्द होना ।
  • भूख कम लगना ।
  • थकान महसूस होना ।
  • कबज हो जाना ।
  • आपके युटरुस में दर्द होना ।

खान – पीन में  के बदलाव :

  • अपनी माहवारी को नियमित करने के लिए ।
  • सबसे पहले तो हमें तले मसालेदार खाने से बचना  चाहिये ।
  • हमें मिर्च- मसाले वाला भोजन नहीं करना चाहिए ।
  • हमे ज़्यादा ठंडा नहीं  पीना चाहिए ।
  • हमें ज़्यादा चाय ,कॉफ़ी नहीं लेनी चाहिए ।
  • हमें शुद्ध और स्वच्छ भोजन ही खाना चाहिए ।
  • ज़्यादा खट्टा न खाये ।
  • बहुत भारी भोजन न करे जो आसानी से पच न सके ।
  • पानी ज़्यादा पीए ।
  • देसी घी जरूर ले ।
  • हरी सब्जियाँ और फल जरूर खाये ।

घरेलू उपचार जो माहवारी को नियमित करने में सहायक होते है :

  • साबुत धनिया :

सबसे पहले  तो साबुत धनिया और दालचीनी का पाउडर पानी में डालकर उबाल लेल । जब यह आधा रह जाए तो 1 चम्मच पीसी चीनी डाल कर दिन मे 2 बार पिए । यह आपकी  माहावारी को नियमित करने में सहायक होगी।

  • दालचीनी :

दालचीनी को आप गर्म दूध के साथ उसमें मिला कर भी  पी सकती है । यह भी बहुत फायदेमंद  होता है ।

  • अदरक :

अदरक भी आप किसी भी रूप में  जरूर लें । यह भी आपके लिए बहुत फायदेमंद है ।

  • चुकंदर :

यह आपके ब्लड सैलस को ठीक करने में सहायता करता है और इससे आपकी माहावारी भी नियमित हो जाती है ।

  • कच्चा पपीता :

यह भी आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है ।

  • पौष्टिक भोजन

इन सबके इलावा सबसे पहले अपने भोजन में पोषक तत्व शामिल करे । उससे भी आपको बहुत फायदा मिलता है

औरतों की माहवारी के अनियमितता कारण :

  •  कम उम्र में माहवारी शुरू होना :

कई बार लड़कियों की माहवारी कम उम्र में शुरू हो जाती तो उस वजह से भी उनमें खून की कमी या पोषक तत्त्वों की कमी हो जाने से उनकी माहवारी अनियमित हो जाती है ।

  • रक्तस्त्राव की कमी या ज़्यादा रक्तस्त्राव होना :

कभी- कभी आपको खून कम आता है उस वजह से आपका गर्भाशय साफ़ नहीं हो पाता या फिर कई महिलाओं को बहुत ज़्यादा खून आने की वजह से खून की कमी हो जाती है । जिस वजह से भी आपकी माहवारी अनियमित रहती है ।

  • बच्चेदानी में गाँठ :

आपके शरीर में खून की कमी होना या आपके बच्चेदानी में गांठ या सूजन के होने पर भी आपको माहवारी में दिक्कत हो सकती है। इसलिए अगर आपको कभी भी अधिक परेशानी लगे तो डॉक्टर से संपर्क जरूर करें ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top