गर्भावस्था में ड्राई फ़्रुटस खाने के नुकसान और फायदे

गर्भावस्था में हरेक औरत को सबसे ज़्यादा पोषक तत्वो की जरूरत पड़ती है।  इस समय उन्हें यह सोचना पड़ता है कि क्या खाये और क्या नही । ऐसे में गर्भवती को वही खाना चाहिए जिससे उसे सम्पूर्ण पोषण मिले तो अगर ड्राई फ्रूट्स की बात करे तो हाँ हमे गर्भावस्था में इसे जरूर खाना चाहिए क्योकि यह बहुत लाभदायक होते है इनमें ओमेगा 3 फैटी एसिड ,आयरन और कैल्शियम मिलता है।

इसे खाने के फायदे :

  • अपने शरीर में आयरन और एनीमिया की कमी पूरी करने के लिए आप ड्राई फ्रूट्स खा सकते है । यह एक तो आपको फायदा देगा और आपके बच्चे का वजन नियंत्रित कर के उसे सवस्थ बनाएगा ।
  • इन दिनों अखरोट खाने से बच्चे का मानसिक विकास होता है और दिमाग के साथ हड्डियाँ भी मजबूत बनती है ।
  • इसे खाने से माँ और बच्चे को सम्पूर्ण पोषक तत्व मिलते है और प्रयाप्त ऊर्जा भी मिलती है ।
  • इसे खाने से गर्भवती के स्तनों में दूध बढ़ता है और पोटाशियम भी पूरा होता है ।
  • अपने बच्चे की प्री- मैचयोर डिलीवरी का खतरा कम करने के लिए किशमिश जरूर खाये ।
  • मेवे खाने से गर्भवती को फाइबर मिलता है जिससे उसके होर्मोनेस ठीक रहते है और कब्ज दूर होती है ।
  • सूखे मेवे ,नट्स और अंजीर खाने से लौह तत्व मिलते है ।
  • सूखे मेवे खाने से बच्चे को विटामिन ऐ मिलता है और उसका शरीर मजबूत बनता है ।
  • मेवो में मौजूद मैग्नीशियम आपके बच्चे की हडियो और नसों का विकास करते है ।
  • सूखे आलूबुखारे या खजूर से गर्भवती के गर्भाशय की मासपेशियाँ मजबूत बनती है ।
  • मेवों का इस्तेमाल करने से बच्चे को अस्थमा का खतरा नही होता और बच्चे के फेफड़े मजबूत बनते है ।

मेवे खाने के जितने फायदे है वहाँ इसके नुकसान भी है :

  • गर्भावस्था में काजू खाने से बचना चाहिए क्योकि यह आपका वजन और शुगर और बढा सकता है।
  • अधिक बादाम खाने से आपको कबज भी हो सकती है और इसमें पाए जाने वाले फाइबर से आपका पेट फूल सकता है इसमें सूजन हो सकती और आपको ऐंठन भी आ सकती है ।
  •  पिस्ता अधिक खाने से आपका बीपी बढ़ सकता है और भी कई परेशानिया हो सकती है तो इससे खाने से बचे ।
  • वो मेवे जिन्हे लम्बे समय तक गरम किया जाता है उनमें कैंसरजन होता है जो आपकी पाचन तंत्रिका पर गलत असर डालता है और गर्भवती के अंदर कैंसर होने का खतरा बनता है ।
  • हमेशा आर्गेनिक और प्रिजर्वेटिव मेवे ही खरीदे इसे जितना उपयोग हो उतना ही ले ।
  • बाजार वाले जब सूखे मेवों को सुखाते है तो उसे सुखाने की प्रक्रिया में उसमे कैलोरीज़ बढ़ जाती है इसलिए उसे खाते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए ।
  • सूखे मेवे खरीदते समय कीड़े और फफूंदी न हो यह देखकर ही खरीदे ।
  • सूखे मेवे वही खरीदे जिनमें अलग से चीनी न मिली हो प्राकृतिक शर्करा वाले मेवे ही फायदेमंद होते है तो यह देखकर ही ले ।
  • अपने मेवों को खराब होने से बचाने के लिए लिए इन्हे एयर- टाइट डिब्बों में बंद कर के फ्रिज में रखे ।

अलग- अलग कुछ तरीके मेवे खाने के :

  • मेवों को कच्चा खाना भी लाभदायकक होता है जब भी भूख लगे 1-2 मेवे खा ले ।
  • आप मेवों को पुडिंग और कस्टर्ड में भी डाल कर खा सकती है यह स्वास्थवर्धक साबित होंगे ।
  • आप मेवे सलाद और सैंडविच में भी डाल सकती है ।
  • आप दही के साथ मेवे मिक्स करके खाए इससे आपको मॉर्निंग सिकनेस और उलटी से छुटकारा मिलेगा  ।
  • आप किसी मिठाई में डाल कर भी मेवे खा सकती है ।
  • आप घिसे हुए नारियल में अखरोट और बादाम डाल कर खाये यह बहुत गुणकारी होता है ।
  • आप एक  पैन में पानी लेकर उसमें मेवे डालकर उबाले और उस पानी का उपयोग करे ।
  • जो मेवे सख्त होने की वजह से कच्चे नहीं खाये जाए उन्हें आप गर्म पानी में भोगकर रखे कुछ देर बाद उनके नरम पड़ने पर खाएँ ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top