गर्भावस्था में धूम्रपान का बच्चे पर असर और छोड़ने के घरेलू उपाय

धूम्रपान हर किसी के लिए हानिकारक कहा जाता है और जब बात एक होने वाली माँ की आती है तो इससे दूरी बनाये रखना ही बेहतर होता है क्योंकि इसका दुष्प्रभाव आपसे कहीं ज़्यादा आपके बच्चे पर होने का खतरा रहता है । गर्भावस्था में धूम्रपान करने से आपके होने वाले बच्चे को कोई भी बीमारी हो सकती है वो मरा हुआ पैदा भी हो सकता है और आपकी प्रेगनेंसी में किसी भी तरह की कोम्पलीकेशंस हो सकती है इसीलिए होने वाली माँ को सिगरेट, शराब, तंबाकू और यहाँ तक पेनकिलर्स से भी दूर रहने की सलाह दी जाती है ।

धूम्रपान प्रेगनेंसी में कॉम्प्लीकेशन्स

  • गर्भावस्था में धूम्रपान करने से नाल गर्भाशय से नीचे आ सकती है और बच्चे से अलग भी हो सकती है। ऐसी हालत में मिस्कैरिज हो जाना या बहुत अधिक ब्लीडिंग होने का खतरा बना रहता है ।
  • आपको एक्टोपिक प्रेगनेंसी हो सकती है जिसका अर्थ होता है फिलोपियन टयुबस में संकुचन हो जाना ।
  • आपके धूम्रपान करने से आपकी फर्टिलिटी पर भी प्रभाव पड़ सकता है और आपका बच्चे को फेफड़े या साँस सम्बन्धी गंभीर बीमारी भी हो सकती है और वो अंदर साँस घुटने से मरा हुआ पैदा भी हो सकता है ।
  • धूम्रपान करने से आपको अर्ली मिस्कैरिज भी हो सकती है और आपके दुबारा कंसिव करने में मुश्किल उत्पन्न भी हो सकती है । इसीलिए गर्भावस्था में धूम्रपान करने से बचें ।
  • आपके धूम्रपान करने से प्लेसेंटा यूटरस से अलग हो सकता है और आपके बच्चे को कुछ भी होने का खतरा बना रहता है और आपका प्लेसेंटा हमेशा के लिए खराब भी हो सकता है ।
  • स्मोकिंग करने से आपको परीबिरथ भी हो सकता है और उस वजह से मेन्टल डिसैबिलटी ,हियरिंग या आईसाइट प्रोबलेम या कोई भी और हेल्थ रिस्क हो सकता है ।
  • धूम्रपान करने से बच्चे का वेट कम हो सकता है । उसे कोई समस्या हो सकती है जैसे उसके होंठ या तालु कटे हो सकते है । जन्मजात दिल या फेफड़े की समस्या या फिर जन्म होते ही आकस्मिक मौत भी हो सकती है ।
  • धूम्रपान करने से आपके बच्चे को अस्थमा भी हो सकता है  ।
  • धूम्रपान से आपको आकस्मिक समय से पहले प्रसव पीड़ा भी हो सकती है जो आपके लिए भी जानलेवा हो सकती है ।
  • इसीलिए आपको इसे जल्द से जल्द छोड़ने की कोशिश करनी चाहिये और अगर नहीं छोड़ पा रही है तो अपने डॉक्टर से परामर्श करे ।
  • धूम्रपान करने से आपके बच्चे को डिप्रेशन भी हो सकता है और वो जन्म से ही नशे का शिकार हो सकता है ।
  • लगातार धूम्रपान करने से बच्चे को जन्म से ही खाँसी और कई बार कैंसर जैसी भयानक बिमारी भी हो सकती है ।
  • धूम्रपान माँ और बच्चे दोनों की जान भी ले सकता है ।

आज़माएँ कुछ घरेलू उपाय जिनसे धूम्रपान को छोड़ा जा सकता है : 

  • सबसे पहले तो अगर आपको स्मोकिंग करने की तलब लगती है तो आप उसी समय अपने मुँह में दालचीनी का टुकड़ा रखले । इससे धीरे धीरे आपकी आदत कम होती जाएगी ।
  • आप धूम्रपान छोड़ने के लिए अजवायन का प्रयोग भी कर सकती है जैसे कि आपको जब भी तलब लगे अजवायन मुँह में रखें या चबा कर खाए ।
  • आप शहद भी चाट सकती है क्योंकि इसमें प्रोटीन, विटामिन और एन्ज़ाइम्स होते है जो आपको धीरे- धीरे स्मोकिंग की आदत से दूर करते जाएँगे ।
  • अशवगंधा और शतावरी दोनों ऐसी जड़ी बूटियाँ है जो शरीर को कई रोगों से बचाती है जो लोग लगातार धूम्रपान करते है । उनके अंदर निकोटिन जैसे जहरीले पदार्थ इकट्ठे हो जाते है पर अगर हम लगातार अश्वगंधा और शतावरी का प्रयोग करे तो हम काफी हद तक इस समस्या से बाहर आ सकते है ।
  • मुलेठी का इस्तेमाल करने से भी आप धूम्रपान से बच सकते है और आप संतरे , अंगूर का इस्तेमाल भी कर सकते है ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top