गर्भाशय के टयूमर के कारण,ईलाज और लक्षण

आजकल हरेक की ज़िंदगी भागदौड़ भरी होती जा रही है। अब हमारा खान -पीन चाल-चलन सब बदलता जा रहा है। अब औरतें खुद को हैलदी जीवन नही दे पा रही है जिस वजह से वो आए दिन कोई न कोई बीमारी का शिकार होती जा रही है। इसी तरह से औरतों में गर्भाशय टयूमर भी फैलता जा रहा है। 

इसके लक्षण :

  • अगर आपको गर्भाशय टयूमर है तो आपके पेट दर्द रह सकता है।
  • मीनोपॉज होने के बाद भी आपको ब्लीडिंग शुरू हो जाना।
  • पीठ के निचले हिस्से में दर्द रहना।
  • यूरिन के साथ खून भी आना और इसे रोक भी न पाना।
  • मल त्याग के समय दर्द होना।
  • अनियमित मासिक धर्म होना।
  • बहुत ज़्यादा खून आना।
  • सम्बन्ध बनाते समय दर्द होना।
  • योनि में से पास और खून आना।
  • अपने आप वजन कम होना।
  • कब्जी हो जाना।
  • पेल्विक में दर्द होना।
  • पीठ और लातें दर्द रहना।
  • बार- बार पेशाब आना।
  • गेन्स और होर्मोनेस का बदलना।
  • ज़्यादा उम्र में गर्भधारण करना।
  • मासिक धरम का जल्दी शुरू हो जाना।
  • विटामिन डी की कमी होना।
  • सामान्य से अधिक वजन होना।
  • आपके परिवार में पहले हुआ हो किसी को तो भी आपको हो सकता है।
  • बियर और अल्कोहल ज़्यादा पीना।
  • पोषक तत्व जैसे दूध ,दही और पनीर न लेना।
  • फल और हरे पत्तेदार सब्जियाँ न खाना।
  • समुद्री भोजन और  मछली ज़्यादा खाना।
  • शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं की कमी हो जाना।
  • प्रजनन क्षमता में कमी होना या बार-बार गर्भपात हो जाना।
  • पेट के निचले हिस्से का फूल जाना।

कुछ घरेलु इलाज :

  • सबसे पहले तो आप खाली पेट लहसुन खाये। अगर इसकी गंध तेज लगे तो इसे खा कर ऊपर से गर्म दूध ले यह बहुत गुणकारी है।
  • आप सेब के सिरके को हल्के गुनगुने पानी के साथ मिला कर भी पी सकती है।
  • आप हलदी की जड़ ले इसे आप जूस के साथ भी ले सकती है या उसमें मिला कर पी जाये ।
  • आप रोज सुबह खली पेट आँवला पाउडर के साथ शहद भी ले सकती है।
  • आप नियमित तौर से ग्रीन टी भी ले सकती है यह बहुत फायदेमंद होता है।
  • आप दूध में हल्दी पाउडर, त्रिफला पाउडर और धनिया पाउडर डालकर ले।
  • आप एक गिलास पानी में सिंहपर्णी की जड़ भी उबाल सकती है ।
  • आप हफ्ते में 1-2 बार सालमन मछली भी जरूर ले। इसमें ओमेगा  ३ और फैटी एसिड होता है जो शरीर के लिए बहुत अच्छा होता है । इसमें फिश आयल भी होता है जो शरीर में पीजीए 3 बनाता है ।
  • आप रोज़ सुबह खाली पेट सिट्रस फ्रुट्स भी जरूर ले। इसमें आप निम्बू पानी भी शामिल कर सकती है।
  • आप प्रतिदिन 5-10 बादाम जरूर खाए। बादाम में ओमेगा 3 फैटी एसिड और मिनरल्स पाए जाते है और इसे खाने से गर्भाशय की लाइनिंग भी ठीक हो जाती है।
  • पानी में बरडाक रुट को उबाले और 15 मिनट तक छान कर पी जाये । बरडाक रुट एक ऐसी सब्जी है जो यूरोप और एशिया में पायी जाती है। यह लिवर की कार्यशमता बढ़ाती है और गर्भाशय मे कुछ भी पनपने से रोकती है ।
  • अदरक के टुकड़े कर के पानी में उबाल कर पिए। यह भी बहुत फायदेमंद होता है क्योकि इसके सेवन से शरीर में रक्त कोशिकाओं का संचार अच्छे से होता है।
  • आप बरोकली को भी अपनी खुराक में जरूर शामिल करे। इसे आप किसी भी रूप में ले सकती है जैसे सालाद के रूप में या फिर जूस या सूप मे डालकर भी ले सकती है।
  • आप एक सूती कपड़े को अरंडी के तेल मे भिगोकर उसे अपने पेट पर रखे और उसके ऊपर प्लास्टिक शीट रख कर सिकाई करे उससे भी आपको फायदा होगा।
  • आप अपने खान पीन मे कुछ सब्जियाँ शामिल करे। इन्हे आप सलाद की तरह भी ले सकती है।
  • आप फल भी जरूर ले यह पोषक ततवो से भरपूर होते है।
  • आप ज़्यादा से ज़्यादा पानी पीए।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top