गर्भावसथा में थाइरोइड : लक्षण,कारण,खुराक और परहेज

गर्भावस्था में सभी टैस्ट्स के साथ थाइरोइड का टेस्ट होना सबसे जरूरी होता है । अगर माँ को थाइरोइड होता है तो इसका आसार बच्चे  पर भी हो सकता है । थाइरोइड का मतलब है हमारे गले में तितली के आकार की एक ग्रंथि का थाइरोइड होना । जब शरीर में टी 3 और टी 4 होर्मोनेस असंतुलित हो जाते है तब ही थाइरोइड होता है ।

गर्भावस्था में थाइरोइड के लक्षण :

  • चेहरे पर सूजन आना ।
  • आवाज़ में भारीपन आना ।
  • गर्दन और जोड़ो में दर्द रहना ।
  • नींद की समस्या हो जाना ।
  • कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाना ।
  • सिरदर्द रहना ।
  • वजन का बढ़ना ।
  • अधिक कबज ।
  • ठंड बिलकुल बर्दाश्त न होना ।
  • शरीर में ऐंठन होना ।
  • पेट खराब हो जाना ।
  • नबज धीरे होना ।
  • त्वचा में कसाव आ जाना ।
  • टीएसएच और टी 4 का कम  होना ।
  • उलटी आना और थकावट महसूस होनी ।
  • गर्भपात हो जाना ।
  • शिशु का वजन कम होना ।
  • एनीमिया ।
  • बच्चे का मानसिक विकास न होना ।
  • त्वचा पर रैशेस और खुजली होना ।

गर्भावस्था में खाना :

  • इस समय साबुत अनाज जरूर ले । इसमें गेहूँ की रोटी ,चावल ,जौ और बाजरा शामिल करे और भरपूर पोषक तत्व ले ।
  • टमाटर,प्याज़ और लहसुन ले । यह नैचुरल आयोडिन की तरह काम करता है और थाइरोइड ठीक रखने में मदद करता है ।
  • आप फल और हरे पत्तेदार सब्जियाँ जरूर ले ।
  • आप ब्राउन राइस भी खा सकती है ।
  • आप संतरे का जूस भी ले ।
  • आप विटामिन बी और फाइबर भी भरपूर मात्रा में ले ।
  • आप विटामिन ऐ को पूरा करने के लिए गाजर जरूर ले ।
  • आप पोटैशियम और फोलेट भी ले सकती है ।
  • आप सूरजमुखी के बीज , मूंगफली , काजू और बादाम ले । यह थाइरोइड के होर्मोनेस को घटाने में सहायता करता है ।
  • आप जैतून के तेल का प्रयोग करे ।
  • आप विटामिन बी 12 और कैल्शियम को पूरा करने के लिए दूध ,दही जरूर ले ।
  • आप अंडे ,मछली और अखरोट ले उससे आपके थाइरोइड की सूजन भी कम हो सकती है ।
  • शरीर में आयोडिन की कमी को पूरा करने के लिए आप नमक जरूर ले ।
  • जितना हो सके पानी पिए । इससे आपके शरीर के कई विषैले पदार्थ ख़तम हो जाएँगे और निम्बू पानी भी ले ।
  • हल्दी का दूध जरूर पिए ।
  • खाली पेट लौकी का जूस जरूर पिए । यह बहुत फायदा करता है ।
  • रोज़ एलोवेरा जूस में तुलसी जरूर मिला कर पिए।
  • आप एक गिलास पानी में दो चममच साबुत धनिये के रात को भीगोकर सुबह उसे उबाल कर पिए यह भी बहुत फायदेमंद रहेगा।

गर्भावस्था का परहेज :

  • आप इन दिनों वसा वाला भोजन  न ले।
  • जंक फ़ूड बिल्कुल भी न खाये ।
  • चाय ,कॉफ़ी से दूर रहे ।
  • बियर और शराब न ले ।
  • सोया युक्त भोजन न खाये ।
  • जैम,जेली ,कूकीज और पेस्ट्रीज आदि से भी दूर रहे ।
  • बहुत ज़्यादा  आयोडिन न ले यह आपका थाइरोइड  और भी बढा  सकता है ।
  • सब्जियों में से ब्रोकली ,पालक और गोभी न खाये।
  • ग्रीन टी न पिए ।
  • भारी और मसालेदार भोजन न खाये ।
  • ब्रेड और पास्ता न खाए ।
  • सोया दूध बिलकुल भी न पीए ।

थाइरोइड का इलाज :

  • हाइपोथायरायडिजम : 

इसमें ब्लड टैस्ट भी किया जाता है जिसमें टीएसएच और टी 4 स्तर देखा जाता है ।

  • हाइपरथायरायडिजम : 

इसमें ब्लड टेस्ट किया जाता है जिसमें टी3  और टी 4 देखा जाता है ।

  • टीएसआई टेस्ट : 

आजकल इसे और ज़्यादा अच्छे  से पता करने के लिए टीएसआई टेस्ट भी किया जाता है ।

  • टीएसएच टेस्ट 

अगर इसका स्तर  कम या ज़्यादा भी आये तो यह  आपके लिए बहुत नुकसानदेह है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top