युटरुस फ़ाइब्रोइडस – कारण, लक्षण और साइड – इफेैकटस

युटरस फ़ाइब्रोइडस यानि बच्चेदानी में रसोली । यह आपको कभी भी हो सकती है । यह बहुत तकलीफ देती है यह एक तरह की गांठें ही है जो काफी दर्द करती है । फाइब्रोइडस का पता सिर्फ अल्ट्रासॉउन्ड से ही लगता  है । प्रॉपर डायग्नोज़ होने के बाद इसके बारे में सब पता चल जाता है । 

फ़ाइब्रोइडस के लक्षण : 

  • आपकी माहवारी का अनियमित हो जाना।
  • पेल्विक पेन रहना ।
  • ब्लीडिंग बहुत ज़्यादा होना और कई बार उस वजह सेे एनीमिआ भी हो जाना ।
  • लोअर बैक पैन ।
  • कब्जी रहना ।
  • सेक्सुअल रिलेशन्स के समय दर्द होना ।
  • माहवारी 6 दिनो से भी अधिक आना ।
  • बार -बार पेशाब आना ।
  • नाभि के नीचे पेट पर दबाव और भारीपन होना ।
  • कमजोरी आ जाना ।
  • प्राइवेट  पार्ट्स से खून आना ।
  • प्राइवेट पार्ट्स से बदबू आनी ।
  • पैरो में दर्द ।
  • शरीर में दर्द ।

फ़ाइब्रोइडस के परहेज :

  • सबसे पहले तो फल ,सब्जिया अधिक से अधिक खाए ।  टमाटर ,सेब और ब्रोकली का सेवन करे । यह फ़ाइब्रोइडस  घटाने में सक्षम है ।
  • अपना स्ट्रेस कम करे और खुद को खुश रखे ।
  • एक्सरसाइज जरूर करे योग और मैडिटेशन भी करे ।
  • चाय ,कॉफी बिलकुल भी न ले ।
  • अल्कोहल और सिगरेट से बचे ।
  • जंक फ़ूड और प्रोसैस्ड फूड बिल्कुल न ले । यह  आपके शरीर के होर्मोनेस बिगाड़ता है ।
  • कच्चा लहसुन खाली पेट जरूर ले । यह आपका फ़ाइब्रोइड बिल्कुल भी बढ़ने नहीं देगा ।
  • कास्टर ऑइल अदरक के रस के साथ जरूर ले । यह आपके फ़ाइब्रोइडस  कम करेगा ।
  • दिन में दो बार सेब का सिरका जरूर पिए । यह आपको दर्द से निजात देगा ।
  • हल्दी का प्रयोग  जितना ज़्यादा हो सके करना चाहिए क्यों कि यह फ़ाइब्रोइड को कैंसर नहीं बनने देगी इसके एंटीबायोटिक्स बहुत फायदेमंद होते है ।
  • फ़ाइब्रोइड के मरीज को ज़्यादा से ज़्यादा पानी पीना चाहिए । तरल पदार्थ बहुत ले । निम्बू पानी जरूर ले। यह आपके शरीर की साथ ही साथ सफाई करता रहेगा ।
  • ग्रीन टी जरूर पिए इसे दिन में 2 -3 बार पीने से रसोली की कोशिकाएं ठीक होने लगती है ।
  • प्याज़ में सेलेनियम होता है जो फ़ाइब्रोइडस को सिक़ोड़ देता है और यह ठीक होने लगते है ।
  • रोज़ाना खाली पेट एक चम्मच शहद के साथ एक चम्मच आवला पाउडर जरूर ले ।
  • सिट्रस फल जरूर ले क्योकि उसमें विटामिन सी  और एंटीऑक्सीडेंट होता है जो फ़ाइब्रोइड बनने  नही देते ।
  • रोज़ाना बादाम जरूर  ले । इसमें ओमेगा 3 फैटी एसिड होता है जों शरीर के लिए बहुत अच्छा होता है ।
  • सूरजमुखी के बीज फ़ाइब्रोइड बनने नही देते और उसे कम करते है ।
  • अपने गर्भाशय की सूजन कम करने के  लिए अदरक की जड़ जरूर ले यह बहुत फायदा है।
  • कच्ची सब्जियाँ  जरुर ले क्योकि इनमें फाइबर होता है जो होर्मोनेस बैलेंस करते है ।
  • अपने शरीर में फोटोएस्ट्रोजन पूरा करने के लिए आप दालें , मसाले और बीन्स जरूर ले यह फ़िब्रोइड सिकोड़ता है ।
  • ठंडे पानी की मछली सालमन के अंदर कई तरह का फैट होता है जों फ़ाइब्रोइड ठीक करने में सक्षम  है ।
  • फ़ाइब्रोइड की समस्या को ठीक करने के लिए गुग्गल जरूर ले । यह सीने की जलन और दर्द ठीक करता है । अगर आपको ज़्यादा परेशानी लगे तो 4 -6 घंटे बाद भी ले सकते है ।
  • इसे सुबह शाम गुड़ के साथ ले ।

साइड – इफेक्ट्स शरीर को फ़ाइब्रोइडस के बाद :

  • फ़ाइब्रोइड से शरीर के मूत्राशय पर चोटों जैसे निशान हो सकते है ।
  • इससे आपके प्राइवेट पार्ट्स में रैशेस भी हो सकते  है ।
  • इससे आपके शरीर में रक्त की हानी भी हो सकती है ।
  • इससे आपको बांझपन हो सकता है ।
  • अगर फाइब्रोइड जटिल हो जाये तो यह कैंसर का रूप भी ले सकता है ।
  • इससे आपको खून की कमी भी हो सकती है ।
  • आपको पीठ दरद भी हो सकती है ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top