स्तन कैंसर के लक्षण, कारण और बचाव

स्तन कैंसर एक बहुत ही गंभीर बीमारी है । पर इसके होने पर कई बार इसके बारे में पता भी नही लगता । अगर इसके बारे में समय से पता लग जाए तो ही इसका इलाज संभव है नहीं तो यह  बहुत ज़्यादा आगे तक फैलने लगता है और बहुत देर हो जाती है ।

स्तन कैंसर के लक्षण :

  • स्तनो  के आकार में  बदलाव होना । 
  • स्तनो के नीचे गाँठ जैसा महसूस होना ।
  • निप्प्प्लो का मुड़ना या लाल हो जाना ।
  • कोई तरल या चिपचिपा पदार्थ निकलना ।
  • स्तनों  को दबाने पर दर्द निकलना ।
  • स्तनों  में लम्प पड़ना ।
  • स्तनों में सूजन ।
  • स्तनों के थिकनेस में बढावा होना ।
  • बगल में लम्प हो जाना ।
  • निप्पल्स में से खून आना ।
  • हड्डी में दर्द ।
  • निप्प्लेस का अंदर की ओर धँसना ।

स्तन कैंसर के कारण :

  • जैसे जैसे औरतों की उम्र बढ़ती जाती है उन्हें कैंसर होने का खतरा भी बढ़ता जाता है ।
  • स्तन  कैंसर जैनेटिकली भी होता है अगर किसी व्यक्ति के किसी करीबी रिश्तेदारों  में यह बीमारी हुई हो तो उसे भी होने के चांस होते है ।
  • अगर मासिक धर्म 12  साल से भी पहले शुरू हुआ हो तो भी यह होने का खतरा बना रहता है ।
  • अगर आपके शरीर में पहले भी गांठे रह चुकी हो तो भी आपको यह बीमारी होने का खतरा रहता है ।
  • अगर आपके स्तनों  में ज़्यादा उघान है तो भी आपको ये बीमारी होने का खतरा बहुत बढ़ जाता है ।
  • अगर आप 30 साल या उसके भी बाद गर्भधारण करती है तो आपको यह बीमारी होने का खतरा बना रहता है ।
  • अगर आपको मीनोपॉज 55 साल की उम्र के बाद हुआ हो तो भी आप को ये बीमारी होने का खतरा है ।
  • अगर आप बहुत ज़्यादा सिगरेट पीती है या शराब और नशीली दवाइयों का सेवन करती है तो भी आपको यह घातक बीमारी हो सकती है ।
  • अगर आप गर्भनिरोधक दवाइयाँ बहुत लेती है तो भी यह हो सकता है ।
  • अगर आप एस्ट्रोजन और प्रोजेस्ट्ररोन की दवाइयों का सेवन ज़्यादा करती है तो भी यह हो सकता है।
  • अगर आप खाने की कैनिंग सम्बन्धी , प्लास्टिक सम्बन्धी या बार और कसीनो में नौकरी करती  है तो भी खुद का बचाव रखे क्योकि ये बीमारी इन  जगह होने का पूरा खतरा होता है ।
  • अगर आपका वजन ओवरवेट है तो भी खुद का बचाव रखे और वजन को कम करने की कोशिश करे ।
  • अगर आपको पहले पहले भी कभी स्तन  कैंसर हुआ हो तो यह दोबारा होने के भी चांस होते है ।

स्तन कैंसर से कैसे करे बचाव :

  • कभी भी अपनी आदतों में मदिरा ,धूम्रपान नहीं शामिल करना चाहिये क्योकि इन्हे न लेकर ही आप अपनी सेहत का बचाव कर सकते है ।
  •  अपने आहार में पोषक तत्त्व  शामिल करने चाहिए जों शरीर को तंदरुस्त रखे ।
  • अपने आहार में हल्दी जरूर शामिल करे कयोकि यह एंटीऑक्सीडेंट है जो शरीर के सारे जर्म्स खत्म करती है ।
  • आप रोजना मैडिटेशन,योग ,एरोबिक्स ,जॉगिंग आदि जरूर करे एक्सेरसाइज करने से पसीना आता है जिससे हमारे छिद्रो में से गन्दा पानी निकलता है जो कई बिमारियों को दूर करती है ।
  • अपने  शरीर का वजन सामान्य रखे इसे बढने न दे ।
  • अगर आपको कोई भी परेशानी महसूस हो तो तुरंत डॉक्टर से परामर्श ले ।
  • अपना हैल्थ चैकअप समय -समय पर करवाते रहे ।
  • अपने आहार में फल और सब्जियाँ जरूर शामिल करे यह शरीर में प्रोटीन,विटामिन्स आदि पूरे करता है और शरीर को रोगो से लड़ने के लायक बनता है ।
  • दालें और सूखे मेवे भी जरूर ले ।
  • कैल्शियम के लिए दूध ,दही और पनीर ले ।
  • बाजार का खाना और डिब्बाबंद चीज़ें न खाए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top