हॉस्पिटल बैग में क्या रखे और नोर्मल डिलीवरी टिप्स

प्रैगनेंसी का नौवा महीना वो महीना है जब आपका शिशु बिल्कुल बनकर तैयार  हो गया है और जल्द ही आपके हाथो में आने वाला है।

  • सबसे पहले तो आप इन दिनों पूरी तरह से आराम करे। काम करने की कोशिश बिल्कुल भी  न करे ।
  • आप इन दिनों ज़्यादा से ज़्यादा फाइबरयुक्त भोजन पर ध्यान दे ताकि आपका फ्लुइड कम न हो ।
  • आप इन दिनो खुद को हाइड्रेट रखे ।
  • अपना बीपी लेवल ठीक रखने के लिए खुद को तनावमुक्त रखे ।
  •  खुद को ठीक रखने के लिए समुद्री भोजन या कच्चे मास से बचे  ।
  • ज़्यादा देर खड़े न रहे और चले फिरे भी नहीं ।
  • तला भुना और मसालेदार भोजन छुए भी नहीं।
  • फिसलन वाली जगह पर न जाये ।
  • अगर कोई भी परेशानी लगे तो ड़ॉक्टर से संपर्क जरूर करे ।

कुछ तैयारियाँ बच्चे के आने से पहले :

  • सबसे पहले तो आप अपना मैटरनिटी बैग तैयार  कर के रखे क्योकि इस समय आपको किसी भी वक़्त हॉस्पिटल जाना पड़ सकता है तो उस समय आप कुछ भी रखने के हालत में नहीं होंगी ।
  • आप अपना हॉस्पिटल में काम आने वाला जरूरत का सामान भी जरूर रखे जैसे साबुन ,सैनितटाइजर आदि ।
  • अपने बैग में मालिश के लिए तेल और लोशन भी जरूर रखे ।
  • अपने साथ फ्लैट चप्पल के जोड़े भी रखे ।
  • अपने नहाने के लिए साबुन ,कंघी टूथपेस्ट टूथब्रश आदि भी जरूर रखे ।
  • वेट वाइप्स भी जरूर शामिल करे ।
  • अगर सर्दी का मौसम है तो गरम जुराबें ,स्वैटर ,शाल आदि ठीक से रख ले ।
  • अपने अंडरगारमेंट्स भी जरूर रखे ।
  • तोलिये भी रखे ।
  • अपने लिए सेनेटरी पैड्स भी जरूर रखे ।
  •  इसके इलावा आपके  पहनने के लिए ढीले और सूती कपड़े रखे जो बाद में आपके लिए आरामदायक रहेंगे।

अपने बच्चे  के लिए एक अलग से बैग बनाये जिसमें उसके पैदा होते ही पहनाने के कपड़े ,लंगोट और कुछ पुराने फ़टे कपड़े जो लीरे के काम आएँगी

  • अपने शिशु के लिए वाइप्स जरूर रखे ।
  • मौसम के हिसाब से अगर ठंड हो तो उसके लिए गरम टोपी,दस्ताने ,जुराबें स्वेटर आदि भी रखे ।
  • शिशु को लगाने के लिए पाउडर ,क्रीम ,साबुन और तेल भी जरुर रखें ।
  • वाटरप्रूफ शीट जरूर रखे ।
  • बच्चे की लिए एक मुलायम तौलिया भी जरूर रखे ।
  • बच्चे के लिए नैप्पी पैड्स और कपड़े के नैप्पीज भी रखें  ।
  • बच्चे को लपेटने के लिए शीट भी जरूर रखे।
  • बच्चे का मुँह साफ करने के लिए कुछ सूती रूमाल भी रख ले ।
  • बच्चे के लिए कम्बल भी रखे यह उसे ओढने के काम आ सकता है ।

नार्मल डिलीवरी के लिए किन बातों का ध्यान रखना चाहिए :

  • अगर आप अपनी नार्मल डिलीवरी चाहती है तो नौवा महीने शुरू होते ही घी जरूर अपनी खुराक में शामिल करे । ऐसा माना जाता है घी की चिकनाहट से बच्चे को बाहर आने मे आसानी होती है ।
  • आप हर रोज़ मैडिटेशन भी जरूर करे इससे भी आपको नोर्मल डिलीवरी में मदद मिलेगी ।
  • आप नियमित रूप से व्यायाम भी कर सकती है । कोशिश करे कि सिर्फ साँसो वाले व्यायाम ही करे।
  • विटामिन्स जरूर ले । 
  • कोई परेशानी आने पर डॉक्टर से सलाह जरूर करे ।
  • बिलकुल भी तनाव न ले और भरपूर आराम करे।
  • अपनी सोच सकारत्मक रखे ।
  • अपने आप को प्रसन्न रखे  ।
  • संतुलित भोजन खाये ।
  • अपने हाॅस्पिटल का कमरा पहले से बुक करवा के रख़े  ।
  • आप अपने पैरों की सूजन कम करने लिए गुनगुने पानी में पैर रखे  ।
  • गुनगुने पानी से नहाए इससे आपके शरीर को दर्द से राहत मिलेगी  ।
  • अगर आपको बार बार नस चढ़ रही है तो घबराएं नहीं अपनी पैरो पर गरम पट्टी बांधे ।
  • अपनी बॉडी को मोसटराइज़ रखने के लिए कोई भी लोशन जरूर इस्तेमाल करे ।
  • इन दिनों करवट लेकर सोए ।
  • हल्का संगीत सुने ।
  • अगर आपको नींद नहीं आने की परेशानी हो रही है तो कोई किताब पढ़ कर भी आप अपने मन को दूसरी तरफ लगा सकती है ।
  • डिलीवरी के बारे में सोच कर परेशान न हो और गलत धारणाएं न बनाए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top