कब तक करें गर्भावस्था में संभोग और उसके फायदे

गर्भावस्था में बहुत से कपल इस बात को लेकर कन्फ्यूज्ड रहते है कि उन्हें संभोग करना चाहिए या नही क्योकि ऐसी अवस्था में वो कोई रिसक भी नही लेना चाहते। कुछ कपलस को लगता है कि उनके सेक्स करने से उनके आने वाले बच्चे की सेहत पर कोई असर न पड़े पर यह बात सही नहीं है क्योकि सेक्स करने से गर्भवती या उसके बच्चे पर कभी भी कोई बुरा असर नहीं होता इसलिए आप निश्चिन्त  रहे। 

गर्भावस्था में संभोग के फायदे : 

  • गर्भावस्था में दुगुने खून की जरुरत पड़ती है जो कभी -कभी पूरा न होने की वजह से रुक जाता है पर सेक्स करने से यह दौरा ठीक से चलता रहता है और खून पूरा रहता है इससे बच्चे को नुट्रिशन और ऑक्सीजन अच्छे से मिलते रहते है।
  • जब महिलायें उत्तेजित होती है तो उनके शरीर ओर्गास्म बढ़ता है   जिससे उन्हें संतुष्टि मिलती है।
  • गर्भावस्था में सेक्स करने से पेल्विक के नीचे की माँसपेशियाँ मजबूत बनती है और यह नार्मल डिलीवरी करने में सहायक होता है।
  • सेक्स करने से इम्युनिटी बढ़ती है और आप हैलदी जीवन जी पाती है।
  • सेक्सुअल एक्टिविटी न करने से आपको सर्दी या खांसी भी हो सकती है पर अगर गर्भावस्था में सेक्स करते रहती है तो हर तरफ से खुद को सवस्थ रख सकती है।
  • सेक्स करने से माँ बच्चे के बीच हैलदी वातावरण बनता है और माँ तनावरहित रहती है।
  • सेक्स करते रहने से आपका अपने साथी के साथ लगाव कम नही होता और यह आपकी गर्भावस्था की कॉम्प्लीकेशन्स कम करता है ।
  • सेक्स करने से आपका बीपी नोरमल रहता है।
  • सेक्सुअल सम्बन्धो से आपमें पोसटिविटी बनी रहती है और आपका आतम विश्वास नहीं डगमगाता और आप खुद को खुश रख सकती है।
  • सेक्स करने से मासपेशियाँ सिकुड़ती है और मजबूत बनती है और आपको बार- बार पेशाब आने की परेशानी से छुटकारा मिलता है ।
  • गर्भावस्था में सेक्स के दौरान ओर्गास्म आने से पेल्विक मासपेशियाँ मजबूत हो जाती है और डिलीवरी के बाद आप जलदी रिकवर हो सकती है।
  • सेक्स करने से गर्भाशय खुलता है और लेबर पेन के लिए आसानी हो जाती है।

गर्भावस्था में कब सेक्स नहीं करना चाहिए :

  • यदि आपका पहले भी मिस्कैरिज हुआ या आपका मिस्कैरिज होने की सम्भावनाये ज़्यादा हो।
  • अगर आपके गर्भ में दो या उससे अधिक बच्चे हो।
  • अगर आपके गर्भाशय में प्लेसेंटा बहुत नीचे है।
  • यदि आपको प्री टर्म लेबर की सम्भावना लग रही हो।
  • यदि आपको बहुत क्रम्पिंग और ब्लीडिंग हो।
  • यदि आपका सर्विक्स बहुत छोटा है।
  • यदि आपका सर्विस बहुत जल्दी फ़ैल गया है।
  • अगर योनि के पास ऐंठन हो।
  • अगर आपकी ग्रीवा कमजोर हो।
  • अगर आपको या आपके साथी को मूत्राशय संक्रमण हो।

गर्भावस्था में मास्टरबेशन :

कुछ लोग ऐसी अवस्था में मास्टरबैशन करने को गलत बताते है पर सेक्स एक ऐसी चीज़ है जो कई बार रोक पाना मुश्किल हो जाता है तो उस समय गर्भवती मास्टरबेट कर सकती है। इससे शिशु को कोई नुकसान नही होता पर अगर आप हाई रिस्क प्रेगनेंसी में है तो ऐसा करने से मना किया जा सकता है।

इसके फायदे :

  • सबसे पहले तो ऐसा करने से आप खुद को तनावरहित कर सकती है।
  • आप खुद को ओर्गास्म कर के सम्पूर्ण सुख दे सकती है।
  • अगर आप सम्भोग से बचना चाहती है तो यह एक बहुत बढिया ओप्शन है और आपको राहत भी मिल जाती है।
  • इससे आपको गर्भावस्था में होने वाली कई परेशानियो से राहत मिलती है।
  • इससे आपको नींद भी अच्छे से आती है और आपका शरीर हलका महसूस करता है।
  • यह आपको नार्मल डिलीवरी करवाने में आसानी करवाती है।
  • आपका अपने शरीर के लिए प्यार बना रहता है और आप खुद को हैलदी जीवन दे सकती है।
  • आप खुद को स्ट्रेस रहित रख सकती है और खुद को बेहतर महसूस करवा सकती है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top